Sundar Kand

जहाँ सम्पूर्ण सरल रामायण में मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम के सुंदर स्वरुप, उनके जीवन, स्वभाव और आदर्शों का गुण गान किया गया है। वहीं सुन्दरकांड रामायण का एक ऐसा भाग है जिसमें सिर्फ हनुमान जी की वीरता और वो कितने बलवान थे इसका ही बखान किया है। हिन्दु धर्मावलंबी अपने मन में व्याप्त भय व डर को दूर करने के लिए व घरों में सकारात्मक उर्जा के लिये सुन्दरकाण्ड का पाठ करवाते है। सुन्दरकाण्ड के पाठ से सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं।

काव्य की रचना करते समय पाठकों की रूचि का पूर्णतः ध्यान में रखा गया है।